वैचारिक महाकुंभ

देखे हैं 

हमने तो सुखे हुए समंदर देखे हैं क्या क्या खौफनाक मंज़र देखे हैं । ठूठें दरख्तों पर उजड़े हुए घोसलें इन्क़लाब करते हुए बन्दर देखे हैं । मखमली बिस्तर पे बेचैन अमीर और फक्कड़ मस्त कलंदर देखे हैं । फ़र्श से अर्श,ज़र्रे से आफताब बन मिट्टी में ...

Read More

ग्रामीण परिवेश ही सफलता की रीढ़

छात्रों में गजब की संघर्ष करने,परिस्थति से लड़ने के साथ-साथ अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए जुझारूपन होता है।विशेषर ग्रामीण छात्रों में, इनका संघर्ष प्रायः बचपन से ही शूरू हो जाता है।बस निखारने के लिए थोडी देख रेख की जरूरत ...

Read More

राष्ट्र का हित

दिल में होना चाहिए राष्ट्र का हित, न की जातियों में ब्राम्हण-दलित।। माथे पे लिखा नहीं धर्म किसी का, ईश्वर-अल्ला पर विवाद नहीं उचित।। राजनिति को घर से बाहर ही रहने दो, रहे प्रेम आपस में सुन लो मेरे मीत।। मिलकर करें काम हम सब ऐसा की, बढ़ते चले आगे दुनिया जाये जीत।। #संजय अश्क बालाघाटी

Read More

आँखें ये भर गई

  उत्थान देख गांव की आँखें ये भर गई। हालात देख गांव की आँखें ये भर गई। नाली, खड़ंजे छोड़ो सब वो टूटे फूटे हैं दालान देख मुखिया की आँखें ये भर गई। महिला को चुना मुखिया था इस भोली जनता ने देखा पति -परधान तो आँखें ये भर गई। भीतर ...

Read More

क्या आपकी मुस्कान है

फूल कितना सुंदर है। पर तुमसे सुंदर नही। फूल देख मुस्करा देते है। बिना फूल के तुम्हारी, मुस्कान का जबाव नही।। देख कर गुलदस्ता लोग, अपने इरादे बदल लेते है। पर तुम जो हो इंसान की, पहचाना उसके शब्दो से करती हो। तभी तो सदा हँसती रहती ...

Read More

विदेश नीति में प्रबल होता भारत।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा एससीओ यानी शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन की बैठक में शामिल होने से देश के अंदर इसको जानने की उत्सुकता बढ़ी है कि आखिर यह कहाँ है और इसका क्या उद्देश्य है। तो आइए इसपर ...

Read More

कब और कैसे मिलेगी शहीदों की सच्ची श्रृद्धांजलि

दशकों से आतंक को झेल रहे कश्मीर ने बुधवार को फिर 05 सीआरएफ जवानों को निगल लिया।यह आतंकी हमला अनंतनाग जिले में हुआ।चार अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हुए।एक आतंकवादी भी मुठभेड़ में मारा गया।माना जा रहा है कि कम से कम ...

Read More

शिक्षामंत्री के लिए मांगपत्र

खुशी की बात यह है कि 30 मई को नई सरकार के शपथ ग्रहण करने से पहले ही 100 दिन के जो लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं उसमें शिक्षा भी शामिल की गई है ।उसी के अनुरूप ३१ मई को ...

Read More


Custom Text

  • लेखक दीर्घा matrubhasha
Custom Text

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है