Archives for व्यंग्य

Uncategorized

मौसी जी का वोट:नोटा की जीतया वीरू की वाट ?

जय - राम…..राम मौसी मौसी - अरे! जय बेटा ….राम- राम ….कहो कैसे आना हुआ ? जय – मौसी…बस यहाँ से गुज़र रहा था सोचा आपको एक खुशखबरी देता चलूँ। मौसी – खुशखबरी ….कैसी ख़ुशख़बरी बेटा ? जय - मौसी अपना…
Continue Reading
Uncategorized

जी हजूरी 

जी जी कहने वालो स्वीकार किया जी हजूरी जी घोषणा पत्र के जरिये पुनः साबित किया कमजोरी जी। जी जी से खुश होते बाहर बैठे आका अब तो घोषणा पत्र…
Continue Reading
Uncategorized

सय्या झूठों का बड़ा सरताज निकला !

लोग कहते हैं कि मौन रहने से बेहतर है कि आप मुखर रहकर अपनी बात कहें।यानी बोलना जरूरी है वरना यदि मौनी बाबा बनकर रह गए तो आपकी कहीं दाल…
Continue Reading
Uncategorized

सरकस

ब्रह्म लोक में हनुमान जी बहुत नाराज चले आ रहे थे ।  आते ही राम जी के चरणो में सिर नवा कर बोले- प्रभु जी मैं तो सिर्फ आप का…
Continue Reading
Uncategorized

अनटोल्ड ट्रैजेटी आफ स्ट्रीट डॉग्स …!!

हे देश के नीति - नियंताओं  । जिम्मेदार पदों पर आसीन नेताओं व अफसरों ... आप सचमुच महान हो। जनसेवा में आप रात - दिन व्यस्त रहते हैं। इतना ज्यादा…
Continue Reading

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है