Archives for अर्थभाषा

Uncategorized

लक्ष्य पर कायम रहकर पाएं सफलता

जीवन पथ पर प्रत्येक मनुष्य को प्रतिदिन कई छोटे-बड़े कार्यों को पूरा करना होता है। कई कार्य साधारण होते हैं तो कई आपके जीवन को नई दिशा देते हैं और…
Continue Reading
Uncategorized

कतार में जीवन…!!

tarkesh ojha आजकल मनःस्थिति कुछ ऐसी बन गई है कि,यदि किसी को मुंह लटकाए चिंता में डूबा देखता हूं तो लगता है जरूर इसे अपने किसी खाते या दूसरी सुविधाओं…
Continue Reading
Uncategorized

`बुद्धिमान व्यक्ति जीवनभर अध्ययन करता है`

ऊपर दिया गया कथन प्राचीन ऋषियों की प्रसिद्ध उक्ति है,जो उनकी जीवन-दृष्टि का परिचायक है। मनुष्य और पशु में सबसे बड़ा अंतर उनके सीखने की क्षमता का है। कितना ही…
Continue Reading
Uncategorized

आजादी 70 साल की:क्या पाया गरीबों ने..

गरीबी और साथ में दर्द,फिर भी लोग बनते हैं हमदर्द..जी हाँ,भारत के जीवन में आज हमें जब आजादी मिले हुए सत्तर वर्ष हो गए हैं तो भी,आज गरीब लोग अंग्रेजों…
Continue Reading
Uncategorized

कालापन-गोरापन

ये हमारे यहाँ का बड़ा 'अजीब' रिवाज़ है..जन्म लेते ही लोगों को दो वर्ग में बाँटने का। दो -काले और गोरे का वर्ग। बात यहीं पर ख़त्म नहीँ होती है।…
Continue Reading
Uncategorized

वेब पत्रकारिता का चमकता भविष्य

सूचना और संचार क्रांति के दौर में आज प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के बीच वेब पत्रकारिता का चलन तेजी से बढ़ा है और अपनी पहचान बना ली है.अखबारों की तरह…
Continue Reading
12

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है