ankit jain
आम आदमी के अच्छे दिन ला दिए
वो पुराने वाले दिन याद सबको दिला दिए
वाह वाह मोदी जी अच्छे दिन आ गये
कहते थे की कांग्रेस की सरकार खराब है
बढ़ाया दाम पेट्रोल डीजल का नीयत खराब है
अब स्वयं दाम दुगने तुमने बड़ा दिए
वाह वाह मोदी जी…………
में न खाऊंगा न खाने दुंगा ये है वादा मेरा
कालाधन वापस लाऊंगा ये वादा है मेरा
अब माल्या और मोदी क्यो रंगेलिया मना रहे
वाह वाह मोदी जी ……………
राहुल भी हारे हारे अखलेश ताऊ है
कहते हैं कि ऐ वी एम में जादू है
आप तो जीत की  खूशियां मना रहे
वाह वाह मोदी जी ………………
गरीब का कल्याण करूंगा किसानों का बेटा हूं
अब रो रहा है किसान लाले पढ़े है एक एक रोटी के
 किसानों का बुरा हाल है यही क्या अच्छे दिन आ गये
 ‎वाह वाह मोदी जी…………
आंखे फोड़ी जग जग कर की खूब पढांई की
अच्छे नम्बरो से पास हुआ मेहनत  सफल हुई
पर नौकरी का लुत्फ कम नम्बर वाले उठा रहे
वाह वाह मोदी जी………….
किसान रो रहा है व्यापारी रो रहा
नोट बन्दी से आम आदमी रो रहा
आप तो बस विदेश घूमने जा रहे
वाह वाह मोदी जी …………….
नाम-अंकित जैन
साहित्यिक उपनाम-विरागांकित
जन्म स्थान -पथरिया
वर्तमान पता- पथरिया जिला दमोह
राज्य-मध्यप्रदेश
शहर-पथरिया
शिक्षा- बी. ए.(अध्ययनरत)
विधा -गीत/कविता/लेख
अन्य उपलब्धियाँ- संगीत में गाना और बजाना दोनों में ही समाज के चहेता
लेखन का उद्देश्य- मात्र भाषा हिन्दी भाषा के प्रचार-प्रसार और हिंदी भाषा को बढ़ावा देने का प्रयास करना 
 

About the author

(Visited 52 times, 1 visits today)
Please follow and like us:
0
http://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2018/04/ankit-jain.pnghttp://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2018/04/ankit-jain-150x150.pngmatruadminUncategorizedकाव्यभाषाankit,jainआम आदमी के अच्छे दिन ला दिए वो पुराने वाले दिन याद सबको दिला दिए वाह वाह मोदी जी अच्छे दिन आ गये कहते थे की कांग्रेस की सरकार खराब है बढ़ाया दाम पेट्रोल डीजल का नीयत खराब है अब स्वयं दाम दुगने तुमने बड़ा दिए वाह वाह मोदी जी............ में न खाऊंगा न खाने दुंगा...Vaicharik mahakumbh
Custom Text