Advertisements
Wasif quazi004
इंदौर ।
हिंदी और उर्दू के बेहतरीन संगम और चुनिंदा नज़्मों को इंदौर के लेखक डॉ.वासीफ काज़ी ने पुस्तक ‘कशिश’ के रूप में सृजन किया,संस्मय प्रकाशन द्वारा प्रकाशित पुस्तक कशिश का विमोचन मंगलवार को इंदौर एबी रोड़ स्थित डीक्यू कैफे में साहित्यकारों के बीच होना है ।
     कवि व साहित्यकार डॉ. वासिफ़ काजी मध्यप्रदेश के बड़वानी में जन्में व धार जिले की तहसील कुक्षी में अध्यापन कार्यों के साथ साहित्य क्षेत्र में आए है । वर्तमान में इंदौर में निजी महाविद्धयालय में प्राध्यापक है ।
इनकी साहित्य में बचपन से ही रूचि रही है, और अध्यापन कार्यों से जुड़े होने से लगातार कई पत्र पत्रिकाओं, मातृभाषा.कॉम आदि पर इनकी रचना प्रकाशित होती रहती है । अब तक डॉ काज़ी की चार किताबें आ चुकी है, यह पांचवी किताब पाठकों के बीच पहुंचने वाली है।
 पुस्तक के विमोचन पर हिन्दीग्राम के संस्थापक डॉ.अर्पण जैन ‘अविचल’, संस्मय की निदेशिका शिखा जैन, अमन काज़ी, मृदुल जोशी आदि ने डॉ. काजी को बधाईयाँ दी ।
(Visited 46 times, 1 visits today)
Please follow and like us:
0
http://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2019/05/Wasif-quazi004.jpghttp://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2019/05/Wasif-quazi004-150x150.jpgmatruadminUncategorizedखबरेंसमाचारkaji,wasifइंदौर । हिंदी और उर्दू के बेहतरीन संगम और चुनिंदा नज़्मों को इंदौर के लेखक डॉ.वासीफ काज़ी ने पुस्तक 'कशिश' के रूप में सृजन किया,संस्मय प्रकाशन द्वारा प्रकाशित पुस्तक कशिश का विमोचन मंगलवार को इंदौर एबी रोड़ स्थित डीक्यू कैफे में साहित्यकारों के बीच होना है ।      कवि...Vaicharik mahakumbh
Custom Text