*मतदाता-पच्चीसी*

0 0
Read Time4 Minute, 19 Second

babulal sharma
1.💫
जागरूक होकर करो,मतदाता मतदान।
राजधर्म निर्वाह को, करिये ये शुभदान।।
2.💫
सब कामों को छोड़कर,करना है यह काम।
एक दिवस मतदान का,बाकी दिन आराम।।
3.💫
सही करो मतदान तो, हो उत्तम सरकार।
मन का प्रत्याशी चुनो,मत दे कर हर बार।।
4.💫
डरो नहीं, झिझको नहीं, रहे प्रशासन संग।
अच्छा प्रत्याशी चुनो,बन लोकतंत्र के अंग।।
5.💫
अब आलस को त्यागिए,चलो बूथ परआज।
निर्भय हो मतदान कर, लोकतंत्र के काज।।
6.💫
मन से जो मतदान हो ,हो अच्छी सरकार।
कर चुनाव सरकार का,सुख से जीवन सार।।
7.💫
पहचान पत्र साथ ले, जाना देने वोट।
आना नहीं है लोभ में,भय दारू या नोट।।
8.💫
ई. वी. एम. मशीन से , करना है मतदान।
यह अपना अधिकार है,इसको सब ले जान।।
9.💫
सब को प्रेरित कर चलो,करना है मतदान।
मत के बल सरकार है, लोकतंत्र की शान।।
10.💫
निष्पक्षी मतदान से, हो चुनाव हर बार।
अच्छे नेता जीतकर, बने भली सरकार।।
11.💫
लोकतंत्र की रीढ़ हो, मतदाता भगवान।
तुमसे ही सधते सदा,सब जन के अरमान।।
12.💫
अच्छे लोगों को चुनो ,बने भली सरकार।
सबका साथ विकास हो,नव विचार संचार।।
13.💫
सर्व मुख्य अधिकार है, लोकतंत्र मतदान।
इसका सद उपयोग हो,रहो मती अनजान।।
14.💫
बी.एल.ओ. से बात कर ,नाम सूचना जान।
साथ रखो पहचान भी,फिर करना मतदान।।
15.💫
झूँठे झाँसों से बचो, अंतर्मन की मान।
जाति पंथ को भूलकर,करना है मतदान।।
16.💫
सभी प्रलोभन त्याग के,रख मन का ईमान।
अच्छे से अच्छा चुनें, मन से कर मतदान।।
17.💫
नागरिकों के काम हो,ऐसी हो सरकार।
सबक सुने नुमाइंदा ,मतदाता मनुहार।।
18.💫
मूल तत्व मतदान है,लोकतंत्र की शान।
निर्माता सरकार के ,मतदाता हैं जान।।
19.💫
वर्ष अठारह आयु हो,लिख सूची मे नाम।
मतदाता बन नागरिक, वोट देय आराम।।
20.💫
बहु बेटी सब साथ में , मतदाता अधिकार।
सोच समझ मतदान कर,सपने हों साकार।।
21.💫
मत का सत उपयोग हो ,लोकतंत्र कें माँहि।
हो विकास नित ही नये,देश चमन हो जाँहि।।
22.💫
मत की शक्ति अनूप है, करो वोट भरपूर।
जाति पाँति लालच बला,इनसे रहकर दूर।।
23.💫
संसद और विधायिका,हैं सब मत के जोर।
जागरूक मतदान हो, सत प्रेरण पुरजोर।।
24.💫
जनता के सेवक चुनो,कर्मठ और निष्काम्।
मतदाता भगवान हैं, जब चुनाव हों आम।।
25.💫
बहकावें में दे दिया, तुमने गर जो वोट।
पाँच बरस पछताओगे,पड़े हकों पर चोट।।
💫💫
दल दलदल में मत पड़ो,व्यक्ति चुनो महान।
लोकतंत्र मजबूत हो, हम भी लगें सुजान।।

नाम– बाबू लाल शर्मा 
साहित्यिक उपनाम- बौहरा
जन्म स्थान – सिकन्दरा, दौसा(राज.)
वर्तमान पता- सिकन्दरा, दौसा (राज.)
राज्य- राजस्थान
शिक्षा-M.A, B.ED.
कार्यक्षेत्र- व.अध्यापक,राजकीय सेवा
सामाजिक क्षेत्र- बेटी बचाओ ..बेटी पढाओ अभियान,सामाजिक सुधार
लेखन विधा -कविता, कहानी,उपन्यास,दोहे
सम्मान-शिक्षा एवं साक्षरता के क्षेत्र मे पुरस्कृत
अन्य उपलब्धियाँ- स्वैच्छिक.. बेटी बचाओ.. बेटी पढाओ अभियान
लेखन का उद्देश्य-विद्यार्थी-बेटियों के हितार्थ,हिन्दी सेवा एवं स्वान्तः सुखायः

matruadmin

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

खूबसूरत सफर

Wed Oct 10 , 2018
कभी-कभी ज़िन्दगी के सफर में हमें ऐसे लोग मिल जाते हैं, जिनसे मिलकर ऐसा लगता है शायद भगवान ने उन्हें हमारे लिए ही इस दुनिया में लाया है… अभी कुछ दिन पूर्व ही मुझे एक बहुत प्रतिष्ठित संस्था के साथ जुड़ने का मौका मिला जो शिक्षा के क्षेत्र में नए […]

पसंदीदा साहित्य

संस्थापक एवं सम्पादक

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’

29 अप्रैल, 1989 को मध्य प्रदेश के सेंधवा में पिता श्री सुरेश जैन व माता श्रीमती शोभा जैन के घर अर्पण का जन्म हुआ। उनकी एक छोटी बहन नेहल हैं। अर्पण जैन मध्यप्रदेश के धार जिले की तहसील कुक्षी में पले-बढ़े। आरंभिक शिक्षा कुक्षी के वर्धमान जैन हाईस्कूल और शा. बा. उ. मा. विद्यालय कुक्षी में हासिल की, तथा इंदौर में जाकर राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के अंतर्गत एसएटीएम महाविद्यालय से संगणक विज्ञान (कम्प्यूटर साइंस) में बेचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग (बीई-कंप्यूटर साइंस) में स्नातक की पढ़ाई के साथ ही 11 जनवरी, 2010 को ‘सेन्स टेक्नोलॉजीस की शुरुआत की। अर्पण ने फ़ॉरेन ट्रेड में एमबीए किया तथा एम.जे. की पढ़ाई भी की। उसके बाद ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियाँ’ विषय पर अपना शोध कार्य करके पीएचडी की उपाधि प्राप्त की। उन्होंने सॉफ़्टवेयर के व्यापार के साथ ही ख़बर हलचल वेब मीडिया की स्थापना की। वर्ष 2015 में शिखा जैन जी से उनका विवाह हुआ। वे मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और हिन्दी ग्राम के संस्थापक भी हैं। डॉ. अर्पण जैन ने 11 लाख से अधिक लोगों के हस्ताक्षर हिन्दी में परिवर्तित करवाए, जिसके कारण वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्डस, लन्दन द्वारा विश्व कीर्तिमान प्रदान किया गया।