आदरणीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी आपसे अपेक्षा की जाती है कि इसका उत्तर दिला कर कृतार्थ करें।

Read Time3Seconds

सम्मानणीयों
सेवा में,
श्री दीपक मिश्रा जी, संरक्षक राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण मुख्य न्यायाधीश भारत सरकार नई-दिल्ली। दिनांक :- 18-04-2018 । विषय :- पावर ट्रांसफर आप इंडिया एग्रीमेंट 1947 को सार्वजनिक करके एक सौ तीस करोड़ को स्पष्ट करें। माननीय दीपक मिश्रा जी,
राष्ट्र परिवार भारत के वेनर तले मैं चक्रपाणि चक्र आपसे जानना चाहता हूँ कि पावर ट्रांसफर एग्रीमेंट 1947 आफ इंडिया की सच्चाई क्या है और इसे नागरिकों से छुपाया हुआ क्यों है? क्यों पिछले 70 वर्षों से गोपनीयता के आधार पर गुप्ता रख कर भारत की 130 करोड़ की जनसंख्या को गुमराह किया जा रहा है? क्योंकि भारतीय किसानों व गरीबों की गाढ़ी कमाई का हिस्सा करोड़ों रुपये के हिसाब से ब्रिटिश शासन को हर वर्ष दिया जा रहा है।
महोदय इस विषय पर हम यानि कि राष्ट्र परिवार भारत के माध्यम से दिनांक 15 फरवरी 2018 को जिला विधिक प्राधिकरण जिला जज ओ पी अग्रवाल जी के द्वारा भेजा था। जिसका उत्तर अभी तक नहीं आया। यहां तक कि उक्त पत्र की प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को भी भेजी हुई है।
श्रीमान जी
जय हिंद जय हिंद,
जय जय जय हिंद।
प्रार्थी

सेवा में,
श्री दीपक मिश्रा जी, संरक्षक राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण मुख्य न्यायाधीश भारत सरकार नई-दिल्ली दिनांक:- 18-04-2018। विषय :- पावर ट्रांसफर आप इंडिया एग्रीमेंट 1947 को सार्वजनिक करके एक सौ तीस करोड़ को स्पष्ट करें।

माननीय दीपक मिश्रा जी,
राष्ट्र परिवार भारत के वेनर तले मैं चक्रपाणि चक्र आपसे जानना चाहता हूँ कि पावर ट्रांसफर एग्रीमेंट 1947 आफ इंडिया की सच्चाई क्या है और इसे नागरिकों से छुपाआ हुआ क्यों है? क्यों पिछले 70 वर्षों से गोपनीयता के आधार पर गुप्ता रख कर भारत की 130 करोड़ की जनसंख्या को गुमराह किया जा रहा है? क्योंकि भारतीय किसानों व गरीबों की गाढ़ी कमाई का हिस्सा करोड़ों रुपये के हिसाब से ब्रिटिश शासन को हर वर्ष दिया जा रहा है महोदय इस विषय पर हम यानि कि राष्ट्र परिवार भारत के माध्यम से दिनांक 15 फरवरी 2018 को जिला विधिक प्राधिकरण जिला जज ओ पी अग्रवाल जी के द्वारा भेजा था जिसका उत्तर अभी तक नहीं आया यहां तक कि उक्त पत्र की प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को भी भेजी हुई है श्रीमान जी प्रार्थी चक्रपाणि चक्र राष्ट्र परिवार भारत व इंदु भूषण बाली पत्रकार व भारत के राष्ट्रपति पद का पूर्व प्रत्याशी घर नंबर एक वार्ड नंबर तीन डाकघर व तहसील ज्यौडियां जिला:- जम्मू (जम्मू कश्मीर)

# इंदु भूषण बाली

0 0

matruadmin

Next Post

'हिंददेश साहित्य सम्मान' से सम्मानित हुए न्यायाधीश सुनील चौरसिया 'सावन'

Fri May 8 , 2020
उत्तर प्रदेश के बहुप्रतिष्ठित युवाकवि सुनील चौरसिया ‘सावन’ को असम में ‘हिंददेश साहित्य सम्मान’ से नवाज़ा गया है। ‘हिंददेश’ एक विशाल साहित्यिक परिवार है जिसमें भारतवर्ष के नवोदित एवं वरिष्ठ लगभग 250 कवियों की कविताओं की सरिता अनवरत प्रवाहित होती रहती है। इस कोरोना – काल में हिंददेश परिवार ने […]

Founder and CEO

Dr. Arpan Jain

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ इन्दौर (म.प्र.) से खबर हलचल न्यूज के सम्पादक हैं, और पत्रकार होने के साथ-साथ शायर और स्तंभकार भी हैं। श्री जैन ने आंचलिक पत्रकारों पर ‘मेरे आंचलिक पत्रकार’ एवं साझा काव्य संग्रह ‘मातृभाषा एक युगमंच’ आदि पुस्तक भी लिखी है। अविचल ने अपनी कविताओं के माध्यम से समाज में स्त्री की पीड़ा, परिवेश का साहस और व्यवस्थाओं के खिलाफ तंज़ को बखूबी उकेरा है। इन्होंने आलेखों में ज़्यादातर पत्रकारिता का आधार आंचलिक पत्रकारिता को ही ज़्यादा लिखा है। यह मध्यप्रदेश के धार जिले की कुक्षी तहसील में पले-बढ़े और इंदौर को अपना कर्म क्षेत्र बनाया है। बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग (कम्प्यूटर साइंस) करने के बाद एमबीए और एम.जे.की डिग्री हासिल की एवं ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियों’ पर शोध किया है। कई पत्रकार संगठनों में राष्ट्रीय स्तर की ज़िम्मेदारियों से नवाज़े जा चुके अर्पण जैन ‘अविचल’ भारत के २१ राज्यों में अपनी टीम का संचालन कर रहे हैं। पत्रकारों के लिए बनाया गया भारत का पहला सोशल नेटवर्क और पत्रकारिता का विकीपीडिया (www.IndianReporters.com) भी जैन द्वारा ही संचालित किया जा रहा है।लेखक डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं तथा देश में हिन्दी भाषा के प्रचार हेतु हस्ताक्षर बदलो अभियान, भाषा समन्वय आदि का संचालन कर रहे हैं।