नये वर्ष में

Read Time0Seconds

नये वर्ष में, नया सूर्य है
नई भोर में, नई किरण है
नियति चक्र जो घूम रहा है
साथ-साथ चले जन्म-मरण है

प्रकृति बजाये मृदु वीणा तान
मिले हर जन को उचित सम्मान
विकास के खुलें नवीन द्वार
कर्मशील करे सफलता का पान

सबका श्रम हो जाये सिद्ध
दृढ मजबूत बने स्वाभिमान
शोषण मुक्त हो सम्पूर्ण धरा
हर जीवन से मिट जाये क्रंदन

नये वर्ष में, नया सूर्य है
नई भोर में, नई किरण है
नारी देवी की मूरत जग में,
करें उर से उसका अभिनन्दन है

देता मानवता का पैगाम ‘ऋषि’
मानव के मन से मिटे द्वेषभाव
धरती बने अपनी स्वर्ग समान
दयाधर्म से भरा हो हृदयभाव

मुकेश कुमार ऋषि वर्मा
फतेहाबाद, आगरा

0 0

matruadmin

Next Post

कर्म

Mon Dec 7 , 2020
कुछ ऐसा करो जीवन मे दुनिया आपको याद करे आपके पदचिन्हों पर चलने की समाज से वह फरियाद करे जो आकर पहले से आपके कुछ अच्छा काम कर गए है वे दुनिया मे अपना नाम सदा के लिए अमर कर गए है चाल,चरित्र,चेहरा हमारा स्वच्छ दर्पण सा दिखता रहे परमात्म […]

Founder and CEO

Dr. Arpan Jain

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ इन्दौर (म.प्र.) से खबर हलचल न्यूज के सम्पादक हैं, और पत्रकार होने के साथ-साथ शायर और स्तंभकार भी हैं। श्री जैन ने आंचलिक पत्रकारों पर ‘मेरे आंचलिक पत्रकार’ एवं साझा काव्य संग्रह ‘मातृभाषा एक युगमंच’ आदि पुस्तक भी लिखी है। अविचल ने अपनी कविताओं के माध्यम से समाज में स्त्री की पीड़ा, परिवेश का साहस और व्यवस्थाओं के खिलाफ तंज़ को बखूबी उकेरा है। इन्होंने आलेखों में ज़्यादातर पत्रकारिता का आधार आंचलिक पत्रकारिता को ही ज़्यादा लिखा है। यह मध्यप्रदेश के धार जिले की कुक्षी तहसील में पले-बढ़े और इंदौर को अपना कर्म क्षेत्र बनाया है। बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग (कम्प्यूटर साइंस) करने के बाद एमबीए और एम.जे.की डिग्री हासिल की एवं ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियों’ पर शोध किया है। कई पत्रकार संगठनों में राष्ट्रीय स्तर की ज़िम्मेदारियों से नवाज़े जा चुके अर्पण जैन ‘अविचल’ भारत के २१ राज्यों में अपनी टीम का संचालन कर रहे हैं। पत्रकारों के लिए बनाया गया भारत का पहला सोशल नेटवर्क और पत्रकारिता का विकीपीडिया (www.IndianReporters.com) भी जैन द्वारा ही संचालित किया जा रहा है।लेखक डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं तथा देश में हिन्दी भाषा के प्रचार हेतु हस्ताक्षर बदलो अभियान, भाषा समन्वय आदि का संचालन कर रहे हैं।