Advertisements
edris
भाग एक…..
इदरीस खत्री द्वरा,,,
दोस्तो मार्वल सिनेमेटिक एक फ़िल्म निर्माण कम्पनी है जो अमेरिकन है जिसने सुपरहीरो को नई दिशा के साथ नई दशा भी दी है,,साथ ही विश्वस्तर पर फिल्मो ने अभूतपूर्व सफलता के साथ धन की बरसात भी की है
*मुझे कई दोस्तो के फोन आए पूछा ऐवेंजर्स कि लोकप्रियता इतनी क्यो और कैसे*
हमे तो इन फिल्मों में ऐसा कुछ खास दिखा नही
तो दोस्तो मार्वल की सभी फिल्मे एक दूज़री फ़िल्म से तारतम्यता(कनेक्ट) होती है
मार्वल ने 2008 से अभी तक कूल लगभग 18 फिल्मे दी है,
उसके पहले का इतिहास भी हिट और फ्लॉप से भरा हुआ है, लेकिन एवेंजर्स पर चर्चा 2008 से शुरू होती है
ऐवेंजर्स शृंखला जो कि बड़े शानंदार तरीके से एक दूसरे से गूँथी हुई या जुड़ी हुई होकर आगे जाकर एक साथ होती चली जाती है,
मार्वल सिनेमेटिक में ऐवेंजर्स सीरीज बनाई, जिसका अंतिम भाग एन्ड गेम प्रदर्शन को तैयार है,,
चलिए आज आपको मार्वल की बनाई फिल्मो को चरणबद्ध तरीके से बताते है साथ भी यह भी खुलासा करते हैं कैसे मार्वल ने सभी फिल्मो के ऐवेंजर्स को एक साथ कर दिया और वह आज एकसाथ आकर लड़ते है,,,
इसे गढ़ने के लिए मार्वल ने अपनी सभी फिल्मो को चरणबद्ध किया
जिसे हम तीन चरणों मे बाट सकते है
जिससे आपको एवेंजर्स की तारतम्यता(कनेक्टिविटी) समझना आसान होगा,
पहला चरण:- (फेस 1)
इसमे कई सुपर हीरो के उदय और उनके स्थापना के साथ उनसे जुडी शक्तियों की जानकारी दी गई और अलग अलग रहकर पृथ्वी पर बुराई से लड़ रहे थे,
इनऐवेंजर्स को साथ लाने का प्रयास दिखाया गया था,मैं आपको हर फिल्म की खासियत के साथ ऐवेंजर्स तक पहुचने का रास्ता भी दर्शाउगा, जिससे मेरे पाठकों को एक पगडंडी मिलेगी ऐवेंजर्स एन्ड गेम(आगामी प्रदर्शित फ़िल्म) तक पहुचने में
इसे हम तीन चरणों(फेस) में बाट देते है,,
चरण 1
 जिसकी पहली फ़िल्म थी
 आयरन मेन:-
यह शुरू हुआ 2008 कि फ़िल्म आयरन मेन से
जिसमे एक वैज्ञानिक और हथियार निर्माण कर्ता वैज्ञानिक एक लोहे का सूट बनाता है जिसे खुद पहन कर असीम शक्तियों का मालिक बन कर दुनिया की बुरे लोगो से हिफाज़त करता है,,
जिसके सूट में लाजवाब शक्तियां समेटि गई है
जैसे उड़ने की शक्ति, कॉस्मिक किरणे उगलने की शक्ति,
बम, बारूद, गोलियां के साथ आग उगलने की शक्ति
यह सूट अत्यधिक आधुनिक कम्प्यूटर से लैस होकर इनसाइक्लोपीडिया की तरह बनाया होकर खुदधारक से बात भी करता है साथ ही सलाह के साथ चेतावनी भी देता है,
फ़िल्म के हीरो थे रॉबर्ट डाउनी जूनियर जो कि कमाल अभिनेता है जिनकी शख्सियत अब विश्वभर में आयरन मेन की हो चली है,,
इस फ़िल्म में आयरन मेन, निक फ्यूरी*, शील्ड* की भी झलक दिखाई गई थी,,
यह फ़िल्म ने हॉलीवुड फिल्म जगत में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली 10 फिल्मों की फेहरिस्त में जगह बनाई थी
इन्क्रिटीएबल हल्क-2008,
इसी चरण की दूसरी फिल्म थी, हल्क सुपर हीरो एक आम आदमी घुस्सा आने पर कैसे हरा राक्षस बन जाता है यह बदलाव एक वैज्ञानिक प्रयोग के असगल होने के के कारण होता है जिसके बाद हल्क पर बम बारूद, गोलियां बेअसर होती है, इस फ़िल्म एक खास मुद्दा यह भी बताया गया था कि हो सकता है सुपर हीरो कारगर है लेकिन उनके बचाव अभियान के वक्त जो राष्ट्रीय सम्पदा का नुकसान होता है उस पर दर्शको का ध्यान खीचना
तो सरकार सुपर हीरो के विरोध में आ जाती है
इसी फिल्म में जनरल थंडरबर्ड रॉस* का प्रवेश दिखाया गया जिन्होंने ऐवेंजर्स की नींव रखी थी,
आयरन मेन 2-2010,
लोहे के सूट वाला सुपर हीरो
सरकार के साथ आम लोगो की सुरक्षा को लेकर चिंता करते दिखाए गए इसी फिल्म में एंट्री हुई ब्लेक विडो*, वार मशीन*, कैसे हल्क आयरन मेन, ब्लेक विडो वार मशीन ऐवेंजर्स की टीम बनने की शुरूआत हुई,या वो एक साथ हुवे,,
थॉर -2011, इसमें एक दूसरी दुनिया या ग्रह एस गार्ड वर्ल्ड से रूबरू कराया गया जहां का राजकुमार एक सुपर हीरो थॉर की एंट्री की गई,
जिसके पास असीम ताकत से लबरेज एक हथौड़ा* है जो कि थॉर के दिमाग से जुड़ा हुआ है  जिससे वह लड़ता भी है और उड़ता भी है यह हथौड़ा आक्रमण के साथ ढाल का काम भी करता है,जिसमे बिजली की शक्ति समाई है,,
इस फ़िल्म में टेलीपोट*(एक ग्रह से दूसरे ग्रह में पहुचने) का करिश्मा दिखाया गया था,,
इस फ़िल्म में होकाई*(एक योद्धा), लोकी* (थॉर का भाई) की एंट्री हुई
कैप्टन अमेरिका – फर्स्ट ऐवेंजर्स- 2011,
जिसमे पहले ऐवेंजर्स कैप्टन अमेरिका की उदय की कहानी दिखाई गई जो कि 1942 विश्वयुद्ध के आसपास की थी जिसमे बताया गया था कि कैसे एक बीमार और कमज़ोर बच्चा वैज्ञानिक प्रयोग से सुपर हीरो कैप्टन अमेरिका बनता है साथ ही कैप्टन अमेरिका की ढाल जो कि वाईब्रेनियम*( एक दुर्लभ धातु) की बनी है उसकी हल्की सी झलक पता चली
यह वही वाईब्रेनियम* धातु है जो बाद में फ़िल्म ब्लेक पेंथर-2018 की दुनिया वकाण्डा मे जाकर मिलती है,,
इस फ़िल्म में एक मणी की झलक दिखाई गई जो कि अंतरिक्ष मणी**(स्पेस स्टोन)
साथ ही इसी फिल्म में शील्ड(ऐवेंजर्स को जोड़ने वाला संघटन) के कुछ निर्माण सदस्य भी दिखे जैसे हॉवर्ड स्टार्क और पेकि गॉर्डन,
द ऐवेंजर्स 2012, इस फ़िल्म को प्रथम चरण की अंतिम फ़िल्म माना जाएगा क्योकि यहां आकर सभी ऐवेंजर्स को शील्ड के द्वाराएक साथ कर दिया जाता है
जिसमे आयरन मेन, हल्क, कैप्टन अमेरिका, थॉर, ब्लेक विडो, होकाई सभी ऐवेंजर्स एक दल का हिस्सा होकर पृथ्वी को अंतरिक्ष से आए एलीयन से रक्षा करते है इसी फिल्म में दूसरी मणी माइंड स्टोन** भी दिखाई गई और साथ ही उसकी ताकत भी दर्शाई गई
इसी फिल्म में एक झलक आने वाले वक्त के विश्व के रुपहले पर्दे के सबसे खतरनाक विलेन थानोस*** की भी दिखाई गई थी,,
चरण दो(फेस 2)
आयरन मेन 3:-2013 में आई इस फ़िल्म में आयरन मेन के अंतर्द्वंद का चित्रण किया गया था साथ ही कुछ पुराने दुश्मन को धरती के लिए मुसीबत बन सकते है उनसे भी निपटते दिखाया गया था
थॉर द डार्क वर्ल्ड:-2013 में आई फ़िल्म में थॉर कैसे अंधेरी दुनिया के राक्षसों से लड़ता और ब्रह्मांड की रक्षा करता है, अंधेरी दुनिया के राक्षस ईथर* की मदद से पूरे ब्रह्मांड को अंधेरी दुनिया का बनाना चाहते थे, लेकिन थॉर  अपने सौतेले भाई लोकी की मदद से उनसे लड़कर जीतता है,, इसी फिल्म में तीसरी मणि* (रियलिटी स्टोन) भी सामने लाया गया था जो ईथर के रूप में होता है,
कैप्टन अमेरिका विंटर सोल्जर:- केप्टन अमेरिका का एक पुराना दोस्त दुश्मन बन कर सामने आ जाता है, इस फ़िल्म में ही पता चलता है कि हाइड्रा* भी जीवित है,
इसी फिल्म में हम रूबरू हुवे शेरेन कार्टर, फाल्कन और विंटर सोल्जर से, इसी फिल्म में शील्ड की विस्तृत जानकारी भी सामने आई,
गार्जियन ऑफ गेलेक्सी:- 2014 में आई जिसमे कुछ अपराधी ब्रह्मांड में भगोड़े होते है, और वह कैसे पूरे ब्रह्मांड को बुरी शक्तियों से बचा कर ऐवेंजर्स बनते है,
इसी फिल्म में चौथी मणी पॉवर स्टोन*भी सामने आया, जो कि सारी मणियों में सबसे पुरानी मणि है,इसी फिल्म से  से पता चलता है कि सारी फिल्में पॉवर स्टोन की तरफ बढ़ रही है और थानोस इन सभी मणियों(स्टोन्स)को हासिल करके पूरे ब्रह्मांड पर राज करना चाहता है,,
एज ऑफ अल्ट्रॉन:- 2015 में आई फ़िल्म में आयरन मेन एक कम्प्यूटर जनित रोबोट अल्ट्रॉन बनाता है जो कि सोचने समझने की शक्ति लिए होता है, फिर यह अल्ट्रॉन अपनी फ़ौज खड़ी कर देता है और यह मानव सभ्यता के लिए खतरा बन जाते है तो सभी ऐवेंजर्स साथ आकर इससे निपटते है और मानव जाति की रक्षा करते है,
इसी फिल्म में कुछ नए ऐवेंजर्स भी दिखे जैसे क्विक सिल्वर, स्कारलेट विच, विजन*
एंट मेन :- 2015 में आई थी इसमे एक सज़ा याफ्ता मुज़रिम एक वैज्ञानिक के प्रयोग में सहायता करता है प्रयोग में किस तरह से इंसान का जिस्म छोटा होकर चींटी के आकार का हो जाता है,
इसी फिल्म में हमे भविष्य की एक ऐवेंजर्स द वाष्प की जानकारी मिलती है,,
दोस्तो लेख उम्मीद से ज्यादा बड़ा हो चला है
तीसरे चरण के साथ मार्वल की फिल्में कैसे जुड़ी हैएकदूसरे से पर चर्चा अगले भाग में अविरत,,
फ़िल्म समीक्षक
इदरीस खत्री

#इदरीस खत्री

परिचय : इदरीस खत्री इंदौर के अभिनय जगत में 1993 से सतत रंगकर्म में सक्रिय हैं इसलिए किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं| इनका परिचय यही है कि,इन्होंने लगभग 130 नाटक और 1000 से ज्यादा शो में काम किया है। 11 बार राष्ट्रीय प्रतिनिधित्व नाट्य निर्देशक के रूप में लगभग 35 कार्यशालाएं,10 लघु फिल्म और 3 हिन्दी फीचर फिल्म भी इनके खाते में है। आपने एलएलएम सहित एमबीए भी किया है। इंदौर में ही रहकर अभिनय प्रशिक्षण देते हैं। 10 साल से नेपथ्य नाट्य समूह में मुम्बई,गोवा और इंदौर में अभिनय अकादमी में लगातार अभिनय प्रशिक्षण दे रहे श्री खत्री धारावाहिकों और फिल्म लेखन में सतत कार्यरत हैं।

(Visited 17 times, 1 visits today)
Please follow and like us:
0
http://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2017/03/edris.jpghttp://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2017/03/edris-150x150.jpgmatruadminUncategorizedफिल्ममनोरंजनedris,khatriभाग एक..... इदरीस खत्री द्वरा,,, दोस्तो मार्वल सिनेमेटिक एक फ़िल्म निर्माण कम्पनी है जो अमेरिकन है जिसने सुपरहीरो को नई दिशा के साथ नई दशा भी दी है,,साथ ही विश्वस्तर पर फिल्मो ने अभूतपूर्व सफलता के साथ धन की बरसात भी की है *मुझे कई दोस्तो के फोन आए पूछा ऐवेंजर्स कि...Vaicharik mahakumbh
Custom Text