प्रमोद सोनवानी पुष्प को पत्रकारिता पुरस्कार

0 0
Read Time2 Minute, 5 Second


रायगढ़ :- पत्रकारिता जगत के पितामह गुरुदेव काश्यप की स्मृति में पत्रकारिता पुरस्कार व सम्मान समारोह 2 अक्टूबर 2019 , दिन बुधवार को भव्य व गरिमामय रूप से पालिटेक्निक आडिटोरियम में संपन्न हुआ ।
समारोह में देश के वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैय्यर जी , लोकप्रिय सांसद श्रीमती गोमती साय जी , कलेक्टर यशवंत कुमार जी , पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह जी के साथ शहर व जिले के ब्लॉकों से पधारे पत्रकारगण , गणमान्य नागरिक व स्मृतिशेष काश्यप जी के पारिवारिक सदस्य शामिल हुए ।
पत्रकार जगत रायगढ़ के इस चिरस्मरणीय आयोजन में तमनार तहसील के ग्राम पड़िगाँव निवासी स्वतंत्र पत्रकार व बाल साहित्यकार प्रमोद सोनवानी ‘पुष्प’ को ग्रामीण पत्रकारिता के लिए “गुरुदेव काश्यप स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार – 2019” के तहत विशेष प्रोत्साहन के रूप में पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह जी , सांसद गोमती साय जी , वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैय्यर जी , पूर्व विधायक व वरिष्ठ पत्रकार रोशन लाल अग्रवाल जी ने अपने हाथों से स्मृतिचिन्ह व धनराशि प्रदान कर सम्मानित किये ।
प्राप्त सम्मान हेतु प्रमोद को पत्रकार संगठन तमनार के साथ साथ जिले के सभी साहित्यकार – पत्रकार साथियों ने आशीर्वाद स्वरूप बधाई व शुभकामनाएं प्रेषित किये हैं ।

matruadmin

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

माँ दर्शन दो

Thu Oct 3 , 2019
शेर की सवारी, माँ लगे बड़ी प्यारी, आँखों मे मुस्कान धरे, एक बार आजाओ मेरे द्वारे। अष्ट भुझा धारी, माँ,राक्षसों की संहारी, माँ लगे बड़ी ही प्यारी, दरबार फिर बुलाओ माँ भवानी। त्रिशूल,गदा धारी, माँ करे शेर की सवारी, मंद मंद मुस्कान चेहरे पे, आशीष मुझे भी दो एक बारी। […]

संस्थापक एवं सम्पादक

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’

29 अप्रैल, 1989 को मध्य प्रदेश के सेंधवा में पिता श्री सुरेश जैन व माता श्रीमती शोभा जैन के घर अर्पण का जन्म हुआ। उनकी एक छोटी बहन नेहल हैं। अर्पण जैन मध्यप्रदेश के धार जिले की तहसील कुक्षी में पले-बढ़े। आरंभिक शिक्षा कुक्षी के वर्धमान जैन हाईस्कूल और शा. बा. उ. मा. विद्यालय कुक्षी में हासिल की, तथा इंदौर में जाकर राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के अंतर्गत एसएटीएम महाविद्यालय से संगणक विज्ञान (कम्प्यूटर साइंस) में बेचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग (बीई-कंप्यूटर साइंस) में स्नातक की पढ़ाई के साथ ही 11 जनवरी, 2010 को ‘सेन्स टेक्नोलॉजीस की शुरुआत की। अर्पण ने फ़ॉरेन ट्रेड में एमबीए किया तथा एम.जे. की पढ़ाई भी की। उसके बाद ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियाँ’ विषय पर अपना शोध कार्य करके पीएचडी की उपाधि प्राप्त की। उन्होंने सॉफ़्टवेयर के व्यापार के साथ ही ख़बर हलचल वेब मीडिया की स्थापना की। वर्ष 2015 में शिखा जैन जी से उनका विवाह हुआ। वे मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और हिन्दी ग्राम के संस्थापक भी हैं। डॉ. अर्पण जैन ने 11 लाख से अधिक लोगों के हस्ताक्षर हिन्दी में परिवर्तित करवाए, जिसके कारण वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्डस, लन्दन द्वारा विश्व कीर्तिमान प्रदान किया गया।