Author Archives: matruadmin - Page 1114

राजनीति

प्रधानसेवक के 3 साल

बधाई हो!२०१४ में दिल से चुनी गई मोदी सरकार के ३ साल पूरे हो गए। पहली बार ऐसा हुआ कि, प्रधानमंत्री बनाने के लिए सरकार चुनी गई। सरकार के सरदार…
Continue Reading
काव्यभाषा

याद-ए-गुलमोहर

ए गुलमोहर,तुझे देखकर,यादें ताजा हो आई, तेरी वो तेरी   नाजुक पंखुड़ी, यादें बचपन की ले आई। झुकी डालियों से अनुरक्ति,कैसे बयां करुं  बचपन की, तेरी रक्तिम आभा से  जुड़ गई,स्वर्णिम यादें जीवन  की। सखियों संग…
Continue Reading
समाज

खबरों के खजाने का सूखाग्रस्त क्षेत्र…!

ब्रेकिंग न्यूज...बड़ी खबर...। चैनलों पर इस तरह की झिलमिलाहट होते ही पता नहीं क्यों,मेरे जेहन में कुछ खास परिघटनाएं ही उमड़ने-घुमड़ने लगती है। मुझे लगता है यह `ब्रेकिंग न्यूज` देश…
Continue Reading
काव्यभाषा

मेघा प्यारे आ जाओ

उमड़ घुमड़ के कजरारे,      से मेघा प्यारे आ जाओ। झूम-झूम के  बरसो तुम,  गरज-गरज कर आ जाओ।। प्यासी धरती  बुला रही   उसकी प्यास वुझा जाओ। सूख गए…
Continue Reading
काव्यभाषा

गीत लिखूँ भी तो क्या

गीत लिखूँ भी तो क्या, गुनगुनाना भी तो मुश्किल है। मुश्किल है जीवन में साज़ यहाँ, पत्थरों की ये महफिल है।। कौन था वो एक फकीरा, बस जो गाए जाता…
Continue Reading
काव्यभाषा

नाउम्मीदी के दौर में भी मजबूत है उम्मीद.

काश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक सबसे मजबूत क्या हो सकता है, ये सामान्य ज्ञान का कोई प्रश्न तो नहीं है परन्तु मेरे मष्तिष्क में कौतूहल अवश्य पैदा करता हैंं। जानता…
Continue Reading

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है