एन सी सी और ब्वायज स्काउटर की  मतदान जागरूक रैली संपन्न

0 0
Read Time1 Minute, 37 Second

IMG_20190501_075301

जयपुर  |

बैनाड़ रोड़ जयपुर स्थित जी आर ग्लोबल अकादमी में एन सी सी और ब्वायज  स्काउट  द्वारा मतदान जागरूक रैली निकाली गई  | रैली विद्यालय परिसर से प्रारम्भ होकर  बालाजी विहार , गणेश नगर ,तिरुपति विहार  तक मतदाताओं को मतदान हेतु प्रेरित व जागरुक करते हुए संपन्न हुई | इस अवसर पर विद्यालय के निदेशक श्रीमान आर के दहिया और प्राचार्या श्रीमती झूमर पूनिया ने रैली को हरी झण्ड़ी दिखाकर शुभारंभ किया | रैली की अगुवाई में एन सी सी (NCC) के A.N.O श्रीमान आर के जान्दू , रोवर स्काउट लीड़र श्रीमान एम.के .सामरिया और स्काउट मास्टर श्रीमान डी .एस .राठौड़ रहे | इनके कुशल नेतृत्व में NCC और स्काउट का उत्साह देखते ही बनता था | क्षेत्र वासियों को जिम्मेदारी का अहसास कराते हुए , अपने मताधिकार का सोच समझकर उपयोग करने की प्रेरणा दी गई |

अंत में संकल्प दिलाया गया :-

भय लालच से परे रहें  ,  आओ हम मतदान करें ,

मत से बनती है सरकारें , देश हित कर्म महान करें |

लोकतंत्र के महापर्व का, सफल यह अभियान करें || आओ हम मतदान करें ….

matruadmin

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

 बैशाख

Wed May 1 , 2019
बैसाख का महीना ग्रीष्म ऋतु का आगमन सूरज की गुनगुनाती धूप खिड़कियों से झांकती इतराती,इठलाती संदली सी धूप फिर चिलचिलाती तपती दुपहरी गर्मी की तपिस से तपता वदन कठिन परिश्रम करते मजदूर लोग टप-टप टपके तन से पसीना अनवरत कार्य करते देखते है तो मन अनायस ही कुछ कहने को […]

संस्थापक एवं सम्पादक

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’

29 अप्रैल, 1989 को मध्य प्रदेश के सेंधवा में पिता श्री सुरेश जैन व माता श्रीमती शोभा जैन के घर अर्पण का जन्म हुआ। उनकी एक छोटी बहन नेहल हैं। अर्पण जैन मध्यप्रदेश के धार जिले की तहसील कुक्षी में पले-बढ़े। आरंभिक शिक्षा कुक्षी के वर्धमान जैन हाईस्कूल और शा. बा. उ. मा. विद्यालय कुक्षी में हासिल की, तथा इंदौर में जाकर राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के अंतर्गत एसएटीएम महाविद्यालय से संगणक विज्ञान (कम्प्यूटर साइंस) में बेचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग (बीई-कंप्यूटर साइंस) में स्नातक की पढ़ाई के साथ ही 11 जनवरी, 2010 को ‘सेन्स टेक्नोलॉजीस की शुरुआत की। अर्पण ने फ़ॉरेन ट्रेड में एमबीए किया तथा एम.जे. की पढ़ाई भी की। उसके बाद ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियाँ’ विषय पर अपना शोध कार्य करके पीएचडी की उपाधि प्राप्त की। उन्होंने सॉफ़्टवेयर के व्यापार के साथ ही ख़बर हलचल वेब मीडिया की स्थापना की। वर्ष 2015 में शिखा जैन जी से उनका विवाह हुआ। वे मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और हिन्दी ग्राम के संस्थापक भी हैं। डॉ. अर्पण जैन ने 11 लाख से अधिक लोगों के हस्ताक्षर हिन्दी में परिवर्तित करवाए, जिसके कारण वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्डस, लन्दन द्वारा विश्व कीर्तिमान प्रदान किया गया।