गाँधी के गुजरात में महात्मा गांधी साहित्य मंच को उदय :

Read Time0Seconds

महात्मा गांधी साहित्य सेवा मंच गांधीनगर ,गुजरात राज्य
गांधीनगर साहित्य सेवा संस्थान चेरीट्रेबल ट्रस्ट गांधीनगर
रजिस्ट्रेशन नंबर :एफ 2979 /गांधीनगर 2/गूज़/3021 /गांधीनगर
दिनांक :29 जून 2020
महात्मा गांधी साहित्य सेवा मंच गांधीनगर का गठन दिनांक 21 अप्रैल 2020 को किया गया ,जिनके संस्थापक डॉ गुलाबचन्द पटेल कवि।लेखक अनुवादक ने लोक डाउन समय मे हिन्दी गुजराती साहित्य का और खास करके राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन आदर्श लोगो तक पहुचाने हेतु, और हिन्दी गुजराती साहित्य के प्रचार प्रसार करनेका निर्णय किया गया। देश मे महात्मा गांधी की 150 वी जन्म जयंती समारोह उत्सव चल रहा हे,इस अंतर्गत संस्था का नाम और कार्य दौनों सराहनीय साबित हुए,
डॉ गुलाबचन्द पटेल कवि लेखक और अनुवादक हे,इसके अलावा एक अच्छे सामाजिक कार्यकर हे , बेलगांव कर्नाटक के साहित्यिक मित्र से जानकारी ली और ऑन लाइन कार्यक्रमो की शुरुआत अपने आप की ,जिसमे अहमदाबाद के श्री रमेशभाई मुलवानी का सहयोग प्राप्त होने से संस्था का गठन की बात तय हुई,रमेशभाई मुलवानी जी की वर्धा महाराष्ट्र मे गांधी सेवा श्रम मे महात्मा गांधी सम्मान प्राप्त करने आदित्य फ़ाउंडेशन वर्धा की अध्यक्षा अंजलि पाठ्य द्वारा आयोजित कार्यक्रम मे हुई थी।
इस संस्था मे श्री रमेश भाई मुलवानी को सचिव के पद पर नियुक्त किए गए ,वे अच्छे उद्घोषक साबित हुए उसका लाभ संस्था को हुआ,श्री दिनेशसिंह चावडा,सामाजिक कार्यकर ,श्री राधेश्याम यादव सामाजिक कार्यकर ,प्रमुख इंडियन लायन्स ,श्री महेंद्र चौहान जणसारी समाज के प्रमुख और हीना शाह हिन्दी साहित्य सम्मेलन प्रयाग श्री कांतिभाई पटेल खचांनची यह सभी संस्था के राहबर हे। डॉ गुलबचन्द पटेल ने अध्यक्ष के रूप मे इतना अच्छा कार्य किया तो संस्था का नाम राष्ट्रीय से लेकर आंतर राष्ट्रीय स्तर पर फ़ेल गया ,संस्था के निर्माण के लिए मेरें प्रसिद्ध गजल कार मित्रा श्री विजय तिवारी अहमदाबाद ने हमे प्रोत्साहित क्या हे,मे इंका आभारी हु। इस संस्थाके ओर भी सहयोगी श्री गोरखनाथ प्राध्यापक जलगांव से और गुजरात के श्री डॉ सुरेश
देसाई और प्रो डॉ भावना सावलिया राजकोट उद्घोषक तथा प्रसिद्ध गजल कार श्री विनीत असर अहमदाबाद उद्घोषक भी रहे हे ,संस्था के सभी पदाधिकारी और सहयोगी को मे धन्यवाद
प्रदान करता हु
महात्मा गांधी की 150 वी जन्म जयंती उत्सव समारोह के अनर्गत प्रथम कार्यक्रम
महात्मा गांधी साहित्य सेवा मंच के नाम से ऑन लाइन कवि सम्मेलन महात्मा गांधी के जीवनपर आधारित कवि सम्मेलन हिन्दी मे दिनांक :26 अप्रैल 2020 को आयोजित हिन्दी मे पहला कवि सम्मेलन आयोजित किया गया उसमे देश भर से 25 कविओ ने हिस्सा लिया इन्हे दिनांक 27 अप्रैल 2020 को सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया ,
लोक डाउन पीरियड मे इस संस्था का गठन बहुत फलदायी साबित हुआ ।संस्थाने दूसरा कार्यक्रम दिनांक 1 मई 2020 गुजरात राज्य के स्थापना दिवस पर गुजराती मे आयोजित किया गया यह पहला अवसर था की जिसमे भारत के विविध परदेशो से गुजराती कवि जुड़े ,इन्हे बहुत ही खुशी मिली,विदेश से भी गुजराती कवि जुड़े ,इस कार्यक्रम मे 50 कविओ ने अपनी उम्दा रचनाए प्रस्तुत की ,जिसका संकलन करके ई बुक स्वरूप मे” गांधी काव्य कुंज “काव्य संग्रह के नाम से ई बुक स्वरूप मे ऑन लाइन प्रकाशन किया गया ,जिसका विमोचन भी ऑन लाइन कवि मित्रो एवं पूर्व साहित्य अध्यक्ष ,एवं पूर्व कलेक्टर श्री भगयेश जहा के कर कमलों से जिल्ला शिक्षा अधिकारी श्री नैषध मकवाना,समर्पण आर्ट्स कॉलेज के प्राचार्य श्री दीपक पंडया और राम बा बी एड कॉलेज पोरबंदर पूर्व प्राचार्य डॉ ईश्वर भाई भरडा साहब की उपस्थिती मे दिनांक 12 मई 2020 को किया गया गया यह पुस्तक महात्मा गांधीजी की जन्म भूमि पोरबंदर को डॉ आई ए भरडा साहब को अर्पण किया गया ,कवि सम्मेलन मे जुड़े हुए सभी कवि ओको सम्मान पत्र से सम्मानित किया गया
इस संस्था के साथ सहयोगी श्री कांतिभाई पटेल एडवोकेट ,दिनेशसिंह चावडा
,हीना बहन शाह राधेश्याम यादव और महेंद्र चौहान जुड़े और संस्था को पंजीकृत करवाया गया ,सरकार के नियमो के कारण महात्मा गांधी नाम मे बदलाव किया गया ‘और गांधीनगर साहित्य सेवा संस्थान चेरीट्रेबल ट्रस्ट रखा गया
संस्था के अध्यक्ष डॉ गुलाब चंद पटेल की पुस्तक हिन्दी मे “वैश्विक परिप्रेक्ष्य मे गांधीजी और अन्य शोध ई बुक स्वरूप मे स्वरूप मे ऑन लाइन पब्लिश किया गया इसका विमोचन गांधीनगर साहित्य के अध्यक्ष श्री विष्णु भाई पंडया साहब के कर कमलों से महात्मा गांधी साहित्य मंच पर दिनांक 8 जून 2020 को दोपहर मे दो बजे ऑन लाइन किया गया।
आदरणीय मुख्य मंत्री श्री विजय रूपणी साहब ने संस्थाके अध्यक्ष और संस्थाको प्रसस्ति पत्र गुजराती मे दिनांक 11 मई 2020 को प्रदान करके संस्था को और अध्यक्ष डॉ गुलाब चंद पटेल को अभिनंदित किया गया।
मुख्य मंत्री श्री विजय रूपाणि गुजरात राज्य साहित्य प्रेमी होने से डॉ गुलाब चंद पटेल को इनकी किताब वैश्विक परिप्रेक्ष्य मे गांधीजी और अन्य शोध के विमोचन अवसर पर हिन्दी मे सराहना की और दिनांक हिन्दी मे प्रसस्ती पत्र दिनांक : 8 जून 2020 को प्रदान करके सम्मानित किए गए ।
संस्था ने अब तक किए गए ऑन लाइन कवि सम्मेलनों की विगत इस प्रकार हे।
1,दिनांक 26 अप्रेल 2020 को हिन्दी मे महात्मा गांधी के जीवन पर आधारित कविताओ का ऑन लाइन कवि सम्मेलन आयोजित किया जिसमे 25 कवि ओ ने हिस्सा लेकर अपनी कविताए प्रस्तुत की गई,इन 25 कवीओ को ऑन लिने डिजिटल सम्मान पत्र से सम्मानित किया गया
2, दूसरा कवि सम्मेलन 5 मई 2020 को ऑन लाइन आयोजित किया गया,जिस मे कुल मिलकर 79 कवीओ ने देशभर से हिस्सा लिया ,
3,5 मई को हिस्सा लेकर कवि सम्मेलन मे अपनी रचनाए प्रस्तुत करने वाले काकिओ को सम्मान पत्र डिजिटल स्वरुपमे प्रदान करके सम्मानित किया गया
4 दिनांक 17 मई को ऑन लिने कवि सम्मेलन आयोजित किया गया जिस का उदघाटन क्रांति धारा मेरठ के डॉ विजय पंडित जी ने किया और अतिथि के रूप मे लेखक , पत्रकार हिमालिनी न्यूज़ चेनल के श्री एस एस डोगरा उपस्थित थे।इस कार्यक्रम मे कुल मिलकर 71 कवीओ ने हिस्सा लिया था
5 दिनांक 19 मई 2020 को इन 71 कवि ओको गांधीनगर महा नगर की मेयर साहिबा श्रीमति रिटा बहन पटेल और जलगांव महाराष्ट्र की साहित्यकार एवं सामाजिक कार्यकर के कर कमलों से सम्मानित किया गया
6 दिनांक 12 जून 2020 को राष्ट्रीय बल मजदूरी दिवस पर हिन्दी मे श्री राजकुमार जैन राजन प्रसिद्ध साहित्यकार चितोड़ गढ़ राजस्थान की अध्यक्षता मे आयोजित किया गया ,इस मे 106 कवीणे हिस्सा लिया और अपनी उम्दा रचनाए प्रस्तुत की
7 दिनांक 16 जून 2020 को इन 106 कलमकारो का सम्मान डिजिटल सम्मान पत्र से डॉ कामराज सिंधु गुरुजी के कर कमलों से ऑन लाइन प्रदान करके किया गया
8 गांधी पीस फ़ाउंडेशन नेपाल के अध्यक्ष लाल बहादुर राणा ने इंटरनेशनल एम्बेसेडर डॉ गुलाब चंद पटेल महात्मा गांधी साहित्य सेवा संस्था के संयोजक रूप मे जोड़कर स्वच्छता अवार्ड -2020 से साहित्यकार सामाजिक कार्यकर ,स्वच्छता अभियान से जुड़े हुए लिगो का सम्मान दिनांक 18 जून 2020 को डॉ सुगना मोदी गांधीवादी के कर कमलोसे कराया गया
9 दिनांक 11 जुलाई 2020 को जन संख्या आधारित कवि सम्मेलन आयोजित किया गया जिस मे विश्व वस्ती दिवस आयोजित किया गया जिसका उदघाटन श्री मुकेश भागल संपादक समाचार निर्देश ने किया गया था जिस मे राष्ट्रीय और आंतर राष्ट्रीय 104 कवि जुड़े थे
10 दिनांक `13 जुलाई 2020 कोइन 104 कवीओ को नाथद्वारा साहित्य मण्डल के अध्यक्ष श्री श्याम देवपुरा के कर कमलों से कराया गया
11 आजादी की पूर्व संध्या पर आयोजित जश्न ए आजादी कार्यक्रम मे दिनांक 14 अगस्त 2020 को ऑन लाइन कवि सम्मेलन ज़ूम पर आयोजित किया गया जिस मे आयोजन देवेन वर्मा संपादक अपना गुजरात के सहयोग मे किया गया जिसका उदघाटन श्री एस बी सागर प्रजापति स्वदेश संस्था अयोध्या के हाथो ऑन लाइन करवाया था इस सम्मेलन मे 25 कवि ऑन लाइन जुड़े थे
12 जश्न ए आजादी स्वतन्त्रता दिवस की पूर्व संध्या पर दिनांक 14 अगस्त 2020 को कवि सम्मेलन मंच पर आयोजित किया गया ,जिस मे कुल 151 कवि

जुड़े थे ,जिसका उद्घाटन समाज सेविका अध्यक्ष इंद्र प्रस्थ एज्यूकेशन काजल यादव ने क्या था
13 15 वी अगस्त 2020 स्वतन्त्रता दिवस पर जश्न ए आजादी कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्र प्रेम जताने के लिए किया गया था जिस का उदघाटन साहित्य अकादमी के अध्यक्ष श्री अजय सिंह चौहान ने किया गया था जिस मे ९0 कवीओने अपनी कविताए प्रस्तुत किया गया
१४ जूम परआयोजित ऑन लाइन कवि सम्मेलन १४ अगस्त को आयोजित कवि सम्मेलन मे जुड़े हुए २५ कवि ओका सम्मान दिनांक २१ अगस्त २०२० को प्रोफ डॉ घनश्याम भारती सागर मध्य प्रदेश गढ़कोटा के कर कमलों से किया गया
१५ दिनांक १४ अगस्त को आयोजित कवि सम्मेलन मे हिस्सा लेने वाले १५१ कवीओ का ऑन लाइन सम्मान भारत जोशी संपादक बौद्धिक भारत दांतीवाड़ा गुजरात ne २८ अगस्त को किया
१६ स्वतन्त्रता दिवस पर आयोजित कवि सम्मेलन म जुड़े ९० कवि ओ का सम्मान ऑन लाइन डिजिटल स्वरूप मे शकुंतला जी उदयपुर के कर कमलों से दिनांक २९ अगस्त २०२० को किया गया था
17 विश्व जन संख्या दिवस पर आयोजित कवि सम्मेलन की रचना ओका संकलन करके साझा संकलन ई बुक स्वरूप मे पब्लिश किया गया
संस्था द्वारा आयोजित गुजराती साहित्य ऑन लाइन कवि सम्मेलन :
1 गुजरात राज्य के स्थापना दिवस पर 1 मे 2020 को गांधीजी के जीवन पर आयोजित कवि सम्मेलन आयोजित किया गया जिसमे 50 के करीब गुजराती कवीओने पूरे भारत देश से हिस्सा लिया
2 इन सभी 50 कवि ओको जिनहोने अपनी रचना प्रस्तुत की थी इन सभी को सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया
3 दिनांक 9 मे को ऑन लाइन कवि सम्मेलन आयोजित किया गया ,जिसका उदघाटन गांधीनगर दैनिक न्यूज़ पत्रिका के संपादक श्री कृष्णकांत जहा ने किया ,इस अवसर पर गांधीनगर साहित्य सभा के प्रमुख श्री संजय थोरात अतिथि के रूप मे उपस्थित रहे ।इस कार्यक्रम् मे कुल मिलकर 1 कवि ओ ने देश विदेश से हिस्सा लिया
4 इन सभी 71 कवि ओको सम्मान पत्र एनायत कर के ऑन लाइन सम्मानित दिनांक 10 मई को किया गया
5 दिनांक 15 मई 2020 को ऑन लाइन कवि सम्मेलन आयोजित किया गया जिसका उदघाटन प्रसिद्ध साहित्यकार श्री केशुभाई देसाई के कर कमलों से किया गया ,जिस मे कुल मिलाकर 61 कवीओ ने हिस्सा लिया
6 16 मई 2020 को इन सभी 61 कवि ओको सम्मान पत्र देकर श्री दिनेशसिंह चावडा संगिनी ट्रस्ट के प्रमुख एवं सामाजिक कार्यकर तथा आल मीडिया काउंसिल अहमदाबाद के निर्देशक श्री ज्ञानेन्द्र जी के कर कमलो से सम्मानित किया गया
7 दिनांक 25 मई को लोक गीत प्रस्तुत करने का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिस का उदघाटन हास्य कलाकार श्री हरपालसिंह और संपादक पाटनगर उदय साप्ताहिक के श्री विनोद उदेचा ने किया ,इस कार्यक्रम मे कुल 30 कवीओ ने हिस्सा लिया
8 दिनांक 26 मई को स्वरचित गीत प्रस्तुत करने का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिस का उदघाटन सूरी गुजराती सीरियल के प्रसिद्ध टीवी कलाकार श्री जनक ठक्कर ने किया इसमे कुल 30 कवि वन हिस्सा लिया
9 दिनांक 27 मई 2020 को लोक गीत प्रस्तुत करने वाले 30 कवीओ को श्री रशेश्याम यादव प्रमुख इंडियन लायन्स गांधीनगर स्वर्णिम क्लब और प्रसिद्ध गायक कलाकार कुमारी र्जाल बरोट के के कर कमलों से सममान पत्र देकर सम्मानित किया गया
10 दिनांक 28 मई 2020को स्वरचित गीत प्रस्तुत करने वाले 30 कवि ओको गांधीनगर मेट्रो न्यूज़ के संपादक श्री मुकेश पटेल और बेयूरो चीफ श्री विशाल उपाध्याय चंचल दैनिक न्यूज़ के कर कमलों से सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया
11 दिनांक 13 जून 2020 को मेरी आवज सुनो न्यूज़ चेनल वडनगर पर सीधा ऑन लाइन कवि सम्मेलनश्री शैलेश परमार निर्देशक न्यूज़ चेनल के सहयोग से “शब्दो से भीगिए “कार्यक्रम आयजित किया गया ,जिस मे 15 कवीओ ने हिस्सा लिया

12 दिनांक 15 जून को एस वी न्यूज़ चेनल विसनगर पर चेनल के माध्यम से” एक शाम कवि ओके नाम “कार्यक्रम चेनल के निर्देशक श्री महेश राठोड के सहयोग से 30 कवीओ के वीडियो के द्वारा कवि सम्मेलन आयोजित किया गया
13 दिनांक 5 जुलाई 2020 को गुरु पुर्णिमा निमित कवि सम्मेलन आयोजित किया गया जिसमे राष्ट्रीय और आंतर्राष्ट्रीय ।अमरीका ,औस्ट्रेलिया ,केलिफोर्निया से कवि ओ ने हिस्सा लिया जिस मे कुल मिलाकर 104 कवि जुड़े जिस का उदघाटन दांडी बापू विजय आश्रम धमासणा कलोल के कर कमलों से किया गया
14 दिनांक 9 जुलाई 2020 को इन 104 कवि ओका ऑन लाइन सम्मान गुरुकुल गांधीनगर के मेनेजिंग ट्रस्टी आदरणीय श्री राम स्वरूप स्वामी के कर कमलों से सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया
15 अपना न्यूज़ चेनल गुजरात के माध्यम से 30 कवीओ की कविता ओ के वीडियो न्यूज़ चेनल पर श्री देवेन वर्मा संपादक अपना न्यूज़ दैनिक पत्रिका के सहयोग से 20 जुलाई 2020 को प्रसारित किया गया
16 दिनांक 2 अगस्त 2020 को रक्षा बंधन की पूर्वा संध्या पर वीडियो कवि सम्मेलन आयोजित किया गया,जिसका जिसका उदघाटन पूर्व संसद श्री रतिलाल वर्मा जी के कर कमलों से किया गया ,जिस मे कुल 100 कवि वन जुड़कर अपने वीडियो प्रस्तुत किए ,यह सम्मेलन अपना न्यूज़ चेनल पर प्रसारित किया गया
17 इन 100 कवि ओको मातृका संस्था दिल्ली की अध्यक्षा श्री प्रीति हर्ष के कर कमलों से सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया
डॉ गुलाब चंद पटेल
अध्यक्ष
गांधीनगर साहित्य सेवा संस्थान
महात्मा गांधी साहित्य सेवा मंच
गांधीनगर गुजरात

0 0

matruadmin

Next Post

हीरोइन ऑफ हाईजैक : नीरजा भनोट

Mon Sep 7 , 2020
अदम्य शौर्य की परिभाषा तुम, बहादुरी की गाथा हो। नीरजा तुम सारे जग में, नारी जाति की आशा हो। धीरज भरा कूट कूट कर, साहस में लक्ष्मीबाई स्वरुपा हो। मौत भी जिसको डरा सकी ना, ऐसी शक्तिस्वरूपा हो। हाईजैक जब हुआ विमान, तू बिल्कुल ना घबराई। सूझ बूझ से नीरजा […]

Founder and CEO

Dr. Arpan Jain

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ इन्दौर (म.प्र.) से खबर हलचल न्यूज के सम्पादक हैं, और पत्रकार होने के साथ-साथ शायर और स्तंभकार भी हैं। श्री जैन ने आंचलिक पत्रकारों पर ‘मेरे आंचलिक पत्रकार’ एवं साझा काव्य संग्रह ‘मातृभाषा एक युगमंच’ आदि पुस्तक भी लिखी है। अविचल ने अपनी कविताओं के माध्यम से समाज में स्त्री की पीड़ा, परिवेश का साहस और व्यवस्थाओं के खिलाफ तंज़ को बखूबी उकेरा है। इन्होंने आलेखों में ज़्यादातर पत्रकारिता का आधार आंचलिक पत्रकारिता को ही ज़्यादा लिखा है। यह मध्यप्रदेश के धार जिले की कुक्षी तहसील में पले-बढ़े और इंदौर को अपना कर्म क्षेत्र बनाया है। बेचलर ऑफ इंजीनियरिंग (कम्प्यूटर साइंस) करने के बाद एमबीए और एम.जे.की डिग्री हासिल की एवं ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियों’ पर शोध किया है। कई पत्रकार संगठनों में राष्ट्रीय स्तर की ज़िम्मेदारियों से नवाज़े जा चुके अर्पण जैन ‘अविचल’ भारत के २१ राज्यों में अपनी टीम का संचालन कर रहे हैं। पत्रकारों के लिए बनाया गया भारत का पहला सोशल नेटवर्क और पत्रकारिता का विकीपीडिया (www.IndianReporters.com) भी जैन द्वारा ही संचालित किया जा रहा है।लेखक डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं तथा देश में हिन्दी भाषा के प्रचार हेतु हस्ताक्षर बदलो अभियान, भाषा समन्वय आदि का संचालन कर रहे हैं।