Archives for लघुकथा - Page 6

Uncategorized

वो_दौर_घरौंदों_का

गुड्डे-गुड़िया और घरोंदा से जुड़े किस्से कहानियाँ यकीनन हम सभी की बचपन की यादों में संभले रखे होंगे । घरौदा--->बडो के बड़े से घर के अंदर छोटों का छोटा सा…
Continue Reading
Uncategorized

अद्भुत मिलन

कालिज में वार्षिकोत्सव की तैयारियाँ चल रही थी,इसीलिए हर रोज आते -आते शाम के पांच बज जाते थे।वैसे भी नवम्बर का महीना चल रहा था।शाम का धुंधलका -सा होने लगा…
Continue Reading
Uncategorized

दो नंगे

एक नेता जी अपने  चमचो -चांटो के साथ गरीबों को कंबल बांट रहे थे। तमाम गरीब उन्हें घेरे थे। तभी अचानक वहाँ  एक दूसरे नेता आ टपके पहले नेता से…
Continue Reading
Uncategorized

पानीपूरी वाली प्रेमिका

 यूं ही चलते चलते मैंने  रितिका से पूछ लिया था कि 'पानीपूरी खाओगे' ,  उसने हाँ में गर्दन  हिलाते हुए कहा- हाँ, जरूर,  तुम जो खिला रहे हो ! हम…
Continue Reading
Uncategorized

संदेह 

जब तक स्मार्ट फोन नही आए थे - रमेश और सुधा का दाम्पत्य जीवन हँसी - खुशी से बीत रहा था । शादी के इन पांच सालों में छूट पुट…
Continue Reading

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है