साहित्य संगम संस्थान के योगशाला मंच के माध्यम से अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2021 को प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है जिसमें विभिन्न प्रांतों के प्रतिभागी इस प्रतियोगिता में सम्मिलित होंगे, ज्ञातव्य हो कि योग दिवस पर यह आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभागी शुरूआती उद्बोधन में योगशाला साहित्य संगम […]

इंदौर। प्रसिद्ध बाल साहित्यकार एवं ग़ज़लकार अहद प्रकाश जी की स्मृति में मातृभाषा उन्नयन संस्थान ने दो सम्मान, ‘अहद प्रकाश बाल साहित्य गौरव सम्मान’ एवं ‘अहद प्रकाश ग़ज़ल रत्न सम्मान’, घोषित किए, जो प्रतिवर्ष एक बाल साहित्यकार एवं एक ग़ज़लकार को दिए जाएँगे। इन पुरस्कारों के लिए देशभर से प्रविष्टियाँ […]

रुपेश कुमार(स्वतंत्र पत्रकार) : – परिमल मित्र स्मृति महाविद्यालय, मालबजार , जलपाईगुड़ी, पश्चिम बंगाल के हिंदी विभाग द्वारा आयोजित 17 दिवसीय छात्र वेबिनार का दूसरे दिन भी कार्यक्रम पूर्णरूपेण सफल रहा। मुख्य अतिथि के रूप में महाविद्यालय की प्रभारी अध्यक्ष श्रीमती नंदिता मुखर्जी ने छात्रों का उत्साहवर्धन करते हुए उन्हें […]

वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप के जन्म जयंती के शुभ दिवस पर आल्हा छंद शतकवीर सम्मान समारोह का आयोजन हर्ष उल्लास के साथ संपन्न हुआ । इस आयोजन में संस्थापक कलम की सुगंध संजय कौशिक विज्ञात, महासचिव अर्णव कलश एसोसिएशन- डाॅ अनिता भारद्वाज अर्णव, मंच संचालिका अनिता मंदिलवार सपना, अध्यक्ष- बाबूलाल […]

भारत सरकार में कार्यरत अधिकारी अंग्रेजी की सेवा में अंग्रेजों से भी आगे हैं इसलिए भारत सरकार की पूरी प्रशासनिक व्यवस्था अंग्रेजी में संचालित की जाती है और यह बात जगजाहिर है। हर सरकारी योजना और ऑनलाइन सेवा में भारत सरकार के अधिकारी अंग्रेजी थोपने से बाज नहीं आते हैं। […]

इन्दौर। कोरोना की भयावहता से अवसाद में डूब रहे देशवासियों में उत्साह का संचार करने के लिए हिन्दी कवि सम्मेलनों के स्टार कवि, इन्दौर निवासी अतुल ज्वाला ने ‘हम रोशनी कर जाएँगे’ एक गीत लिखा, जिसका लोकार्पण भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय ने पितृ पर्वत पर […]

संस्थापक एवं सम्पादक

डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’

29 अप्रैल, 1989 को मध्य प्रदेश के सेंधवा में पिता श्री सुरेश जैन व माता श्रीमती शोभा जैन के घर अर्पण का जन्म हुआ। उनकी एक छोटी बहन नेहल हैं। अर्पण जैन मध्यप्रदेश के धार जिले की तहसील कुक्षी में पले-बढ़े। आरंभिक शिक्षा कुक्षी के वर्धमान जैन हाईस्कूल और शा. बा. उ. मा. विद्यालय कुक्षी में हासिल की, तथा इंदौर में जाकर राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के अंतर्गत एसएटीएम महाविद्यालय से संगणक विज्ञान (कम्प्यूटर साइंस) में बेचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग (बीई-कंप्यूटर साइंस) में स्नातक की पढ़ाई के साथ ही 11 जनवरी, 2010 को ‘सेन्स टेक्नोलॉजीस की शुरुआत की। अर्पण ने फ़ॉरेन ट्रेड में एमबीए किया तथा एम.जे. की पढ़ाई भी की। उसके बाद ‘भारतीय पत्रकारिता और वैश्विक चुनौतियाँ’ विषय पर अपना शोध कार्य करके पीएचडी की उपाधि प्राप्त की। उन्होंने सॉफ़्टवेयर के व्यापार के साथ ही ख़बर हलचल वेब मीडिया की स्थापना की। वर्ष 2015 में शिखा जैन जी से उनका विवाह हुआ। वे मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और हिन्दी ग्राम के संस्थापक भी हैं। डॉ. अर्पण जैन ने 11 लाख से अधिक लोगों के हस्ताक्षर हिन्दी में परिवर्तित करवाए, जिसके कारण वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्डस, लन्दन द्वारा विश्व कीर्तिमान प्रदान किया गया।