Archives for समाज

Uncategorized

‘मी टू’:  अकबर का पाखंड और महिला अस्मिता के तकाजे

दस महिला-पत्रकारों के यौन-शोषण के आरोप के जवाब में मोदी-सरकार के विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर के ’एरोगेंस’ पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित सभी वरिष्ठ मंत्रियों की खामोश समर्थन उन सभी…
Continue Reading
Uncategorized

भूख एक लाइलाज बीमारी

विचारणीय कोई खां-खां के मरता है तो भूख रहकर यह दंतकथा प्रचलित होने के साथ फलीभूत भी है। ये दोनों ही हालात में भूख को लाइलाज बीमारी बनाने में कोई…
Continue Reading
Uncategorized

*वह बीनती लोहा…. इंदौर के पथ पर*

_भरी दुपहरी में सूर्य के ताप को सहती, जिसके तन पर कपड़े भी मजबूरी ने फाड़ रखे हो, चेहरे की झुर्रियाँ उम्र की ढलान की ओर साफ तौर पर इशारा…
Continue Reading
Uncategorized

श्राद्ध और ब्राह्मण भोज

 आज कल एक नई फैशन और नई सोच समाज में तेजी से बढ़ रही है ।जहां शिक्षित वर्ग इसका अनुसरण करते नजर आ रहे हैं, वहीं पुरातन वादी सोच के…
Continue Reading
Uncategorized

शब्द संभारे बोलिए

फर्ज करिए कि एक ऐसी प्रयोगशाला बना ली जाए जो हवा में तैरते हुए शब्दों को पकड़कर एक कंटेनर में बंद कर दे, फिर भौतिकशास्त्रीय विधि से  उसका घनत्वीकरण कर…
Continue Reading
Uncategorized

धर्मान्तरण” या  “धर्म में अंतर”

सुबह के अख़बार से लेकर रात के समाचार तक, पूरे दिन में एक ना एक बार एक शब्द कानों में सुनाई पड़ ही जाता है - धर्मान्तरण।  देश के हर…
Continue Reading

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है