Archives for मातृभाषा

Uncategorized

*संगीत और स्वास्थ्य*

संगीत में रुचि तो बचपन से ही रही थी पर तब ज्यादा उसकी महत्व पता नही था। माँ को पुराने फिल्मी गाने बजाने का शौक था और हम भी उसमें…
Continue Reading
Uncategorized

हमारी संस्कृति हमारे संस्कार 

भारतीय संस्कृति सदैव सहिष्णुता के साथ सदभावना/ समरसता/दया ,प्रेम के मार्ग का अनुसरण करते हुए प्रकृति और जीव जन्तुओं सभी को संरक्षण प्रदान करती है । सूर्य ,चन्द्र ,जल ,वायु …
Continue Reading
Uncategorized

हिंदी के नाम पर पाखंड

ताजा खबर यह है कि विश्व हिंदी सम्मेलन का 11 वां अधिवेशन अब मोरिशस में होगा। मोरिशस की शिक्षा मंत्री लीलादेवी दोखुन ने सम्मेलन की वेबसाइट का शुभारंभ किया। इस…
Continue Reading

महत्वपूर्ण सूचना

महत्वपूर्ण सूचना असंयमितता, अनियमितता और अभ्रद्रता के चलते कुछ लोगों को संस्थान से बाहर कर दिया गया है| मूलत: मातृभाषा.कॉम का मालिकाना हक व संस्थापन डॉ.अर्पण जैन 'अविचल' द्वारा किया…
Continue Reading

खर्चीले विवाहों का औचित्य ?

वर्तमान में मुझे विवाह की परिभाषा बदलती हुई नजर आ रही है। अब विवाह का अर्थ वि + वाह ! पर आधारित हो गया है अर्थात विवाह वही जिसे देखकर…
Continue Reading

अंतर्राज्यीय भाषा समन्वय से भारत में स्थापित होगी हिन्दी

विविधताओं में एकता की परिभाषा से अलंकृत राष्ट्र यदि कोई हैं तो भारत के सिवा दूसरा नहीं | यक़ीनन इस बात में उतना ही दम हैं जितना भारत के विश्वगुरु…
Continue Reading

मातृभाषा को पसंद कर शेयर कर सकते है