Advertisements
rikhabchand
म् –  म्लेव् (पूजा करना) पूजनीया
आ-  आगमन(बच्चे का जन्म)
ँ   चन्द्र बिन्दु में बिन्दु बच्चे का प्रतीक है और चन्द्रमा माँ का प्रतीक है यानी ँ (चन्द्र बिन्दु)
माँ की गोद में बच्चे का प्रतीक है ।         #रिखबचन्द राँका

परिचय: रिखबचन्द राँका का निवास जयपुर में हरी नगर स्थित न्यू सांगानेर मार्ग पर हैl आप लेखन में कल्पेश` उपनाम लगाते हैंl आपकी जन्मतिथि-१९ सितम्बर १९६९ तथा जन्म स्थान-अजमेर(राजस्थान) हैl एम.ए.(संस्कृत) और बी.एड.(हिन्दी,संस्कृत) तक शिक्षित श्री रांका पेशे से निजी स्कूल (जयपुर) में अध्यापक हैंl आपकी कुछ कविताओं का प्रकाशन हुआ हैl धार्मिक गीत व स्काउट गाइड गीत लेखन भी करते हैंl आपके लेखन का उद्देश्य-रुचि और हिन्दी को बढ़ावा देना हैl  

(Visited 60 times, 1 visits today)
Please follow and like us:
0
http://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2017/10/rikhabchand.pnghttp://matrubhashaa.com/wp-content/uploads/2017/10/rikhabchand-150x150.pngArpan JainUncategorizedकाव्यभाषाchand,ranka,rikhabम् -  म्लेव् (पूजा करना) पूजनीया आ-  आगमन(बच्चे का जन्म) ँ   चन्द्र बिन्दु में बिन्दु बच्चे का प्रतीक है और चन्द्रमा माँ का प्रतीक है यानी ँ (चन्द्र बिन्दु) माँ की गोद में बच्चे का प्रतीक है ।         #रिखबचन्द राँका परिचय: रिखबचन्द राँका का निवास जयपुर में हरी नगर स्थित न्यू...Vaicharik mahakumbh
Custom Text